http://feeds.feedburner.com/blogspot/GKoTZ

Sunday, June 19, 2016

आओ बच्चों तुम्हें दिखाएँ झांकी Jagriti - Aao Bachchon Tumhen Dikhayen Jhanki Hindustan Ki

आओ बच्चों  तुम्हें  दिखाएँ  झांकी ,
 Aao Bachchon Tumhen Dikhayen Jhanki,
जागृति


देश भक्ति का गीत 
आओ बच्चों तुम्हें दिखाएं झाँकी हिंदुस्तान की

इस मिट्टी से तिलक करो ये धरती है बलिदान की
उत्तर में रखवाली करता पर्वतराज विराट है

वंदे मातरम ...

जमुना जी के तट को देखो गंगा का ये घाट है

दक्षिण में चरणों को धोता सागर का सम्राट है
देखो ये तस्वीरें अपने गौरव की अभिमान की,

बाट-बाट पे हाट-हाट में यहाँ निराला ठाठ है
इस मिट्टी से ...

ये प्रताप का वतन पला है आज़ादी के नारों पे

ये है अपना राजपूताना नाज़ इसे तलवारों पे
इसने सारा जीवन काटा बरछी तीर कटारों पे
देखो मुल्क मराठों का ये यहाँ शिवाजी डोला था

कूद पड़ी थी यहाँ हज़ारों पद्मिनियाँ अंगारों पे
बोल रही है कण कण से कुरबानी राजस्थान की

बोली हर-हर महादेव की बच्चा-बच्चा बोला था

मुग़लों की ताकत को जिसने तलवारों पे तोला था
हर पावत पे आग लगी थी हर पत्थर एक शोला था
यहाँ शिवाजी ने रखी थी लाज हमारी शान की
एक तरफ़ बंदूकें दन दन एक तरफ़ थी टोलियाँ

इस मिट्टी से ...

जलियाँ वाला बाग ये देखो यहाँ चली थी गोलियाँ
ये मत पूछो किसने खेली यहाँ खून की होलियाँ
यहाँ का बच्चा-बच्चा अपने देश पे मरनेवाला है

मरनेवाले बोल रहे थे इनक़लाब की बोलियाँ
यहाँ लगा दी बहनों ने भी बाजी अपनी जान की
इस मिट्टी से ...

ये देखो बंगाल यहाँ का हर चप्पा हरियाला है
इस मिट्टी से ...

ढाला है इसको बिजली ने भूचालों ने पाला है
मुट्ठी में तूफ़ान बंधा है और प्राण में ज्वाला है
जन्मभूमि है यही हमारे वीर सुभाष महान की

No comments:

Post a Comment