http://feeds.feedburner.com/blogspot/GKoTZ

19.6.16

हम लाये है तूफान से किश्ती निकाल के Hum Laye Hain Toofan Se Kashti Nikal Ke - Mohammed Rafi, Jagriti Song

हम  लाये है  तूफान से  किश्ती  निकाल के,
  Hum Laye Hain Toofan Se Kashti Nikal Ke,

देश भक्ति का गीत  


पासे सभी उलट गए दुश्मन की चाल के
अक्षर सभी पलट गए भारत के भाल के
मंज़िल पे आया मुल्क हर बला को टाल के
सदियों के बाद फिर उड़े बादल गुलाल के
इस देश को रखना मेरे बच्चों सम्भाल के 

 हम लाए हैं तूफ़ान से कश्ती निकाल के 
 तुम ही भविष्य हो मेरे भारत विशाल के
देखो कहीं बरबाद ना होए ये बगीचा
इस देश को रखना मेरे बच्चों सम्भाल के
मंज़िल तुम्हारी दूर है लम्बा है रास्ता 
इसको हृदय के खून से बापू ने है सींचा
रक्खा है ये चिराग़ शहीदों ने बाल के, इस देश को... 
 दुनिया के दांव पेंच से रखना ना वास्ता
बारूद के इक ढेर पे बैठी है ये दुनिया
 भटका ना दे कोई तुम्हें धोखे में डाल के,
 इस देश को... 
 ऐटम बमों के जोर पे ऐंठी है ये दुनिया 
 तुम हर कदम उठाना ज़रा देख भाल के, इस देश को...
उठो छलाँग मार के आकाश को छू लो 
 आराम की तुम भूल भुलय्या में ना भूलो 
 सपनों के हिंडोलों पे मगन होके ना झूलो 
 अब वक़्त आ गया है मेरे हँसते हुए फूलों
तुम गाड़ दो गगन पे तिरंगा उछाल के, इस देश को...