http://feeds.feedburner.com/blogspot/GKoTZ

14.6.16

रंग डार गयो री मोपे सांवरा




रंग डार गयो री मोपे सांवरा----video link
मर गयी लाजन में हे री मेरी बीर,
मैं क्या करूँ होरी में


मारी तान के ऐसी मोपे पिचकारी
मेरो भीजो तन को चीर,
मैं क्या करूँ होरी में


पागल के ‘चित्र विचत्र’ संग
लीला भाई यमुना के तीर,
मैं करूँ सजनी होरी में