http://feeds.feedburner.com/blogspot/GKoTZ

Saturday, April 2, 2016

बनवारी रे जीने का सहारा तेरा नाम :Banwari re jeene ka sahara tera nam re

कृष्ण भजन 

बनवारी रे

जीने का सहारा तेरा नाम रे
मुझे दुनिया वालों से क्या काम रे

झूठी दुनिया झूठे बंधन, झूठी है ये माया
झूठा साँस का आना जाना, झूठी है ये काया

ओ, यहाँ साँचा तेरा नाम रे
बनवारी रे ...
बन गये तेरे प्रेम के जोगी, ले के मन एकतारा
रंग में तेरे रंग गये गिरिधर, छोड़ दिया जग सारा
ओ, मुझे प्यारा तेरा धाम रे
जीवन मेरा इन चरणों में, आस की ज्योत जगाये
बनवारी रे ...

दर्शन तेरा जिस दिन पाऊँ, हर चिन्ता मिट जाये
बनवारी रे ...
ओ, मेरी बाँहें पकड़ लो श्याम रे


No comments:

Post a Comment